Free Me Kundli Kaise Banaye? | जन्म कुंडली कैसे बनाये

क्या आपको भी कुंडली बनवानी है लकिन आपको पता नही है की Kundli Kaise Banaye? तो आप यह आर्टिकल अंत तक पढ़ते रहे, क्यूंकि आज हम इस आर्टिकल में जानेंगे जन्म कुंडली कैसे बनाते है वो भी घर बैठे.

आज कल लोग कुंडली बनाने के लिए पंडित के पास या फिर कुंडली बनाने वाले के पास जाते है और कुंडली बनाने में पैसे भी लग जाते है. जब जन्म कुंडली बन जाती है तो पढने के लिए अलग से पैसे लेते है, और ऐसे करते करते हमारा बहुत खर्चा हो जाता है लकिन आज हम ऐसा तरीका जानेगे जिससे आप घर बैठे आसानी से अपने मोबाइल से कुंडली बना सकते है. इस समय इन्टरनेट का इतना ट्रेंड चल रहा है की आप इन्टरनेट पर कुछ भी कर सकते है चाहे कुंडली बनवानी हो या फिर शादी के लिए लड़की ढूँढनी हो सब कुछ इन्टरनेट पर आसानी से हो जाता है.

कुंडली कैसे बनाते है के बारे में जानने से पहले हम यह जानना जरुरी है की जन्म कुंडली क्या है? और जन्म कुंडली कहा काम आती है. जन्म कुंडली एक पेज में तैयार की जाती है और उसमे हमारे भूतकाल, वर्तमानकाल और भविष्यकाल के बारे में बताया होता है और यह कुंडली सभी ग्रहों को देख कर बनाया जाता है. जन्म कुंडली में हमारे जीवनभर के बारे सब कुछ होता है जैसे: शिक्षा, भविष्य, शादी, पैसा, बिज़नस, सुख: दुःख: आदि.

अगर आप भी आपके भविष्य को जानने के लिए उत्सुक है तो आपको कुंडली जरुर बनवानी चाहिए जिससे आप आसानी से सब कुछ जान सकते है, तो चलिए शुरू करते है और जानते है: Kundli Kaise Banaye.

Kundli Kaise Banaye? – जन्म कुंडली कैसे बनाये

Kundli Kaise Banaye जन्म कुंडली बनाने के लिए आपको कही भी जाने की जरुरत नही है आप आसानी से घर बैठे फ्री में अपनी कुंडली बना कर पढ़ सकते है. जन्म कुंडली बनाने के लिए आपको एक मोबाइल की जरुरत होगी और नीचे दी गई स्टेप्स को पढ़े:

1. सबसे पहले आपको AstroSage Kundli app की जरुरत होगी यह App आपको play store पर मिल जायेगी या फिर नीचे दिए गये बटन की मदद से आप यह app डाउनलोड कर सकते है

2. App डाउनलोड होने के बाद इसे खोलना है और आपको जिस भासा में आपको कुंडली बनानी है वह भासा चुन लेना है

Free Me Kundli Kaise Banaye? | जन्म कुंडली कैसे बनाये

3. अब आपको इस app में अपना अकाउंट बनाना है, यह अकाउंट आप फेसबुक, जीमेल, या इमेल की मदद से बना सकते है

4. जैसे ही आप अकाउंट बना लोगो तो आप इस app के होम पेज पर आ जाओगे और अब आपको Kundli पर क्लिक करना है

Free Me Kundli Kaise Banaye? | जन्म कुंडली कैसे बनाये

5. अब आपको अपना नाम, जन्म की तारीख और समय, जन्म का स्थान और gender डाल देना है और Get Horoscope पर क्लिक करना है

6. अब आपकी जन्म कुंडली बन कर तैयार हो जायेगी और आप अपनी कुंडली में सब कुछ पढ़ सकते है

7. इस कुंडली को डाउनलोड करने के लिए आपको उपर तीन डॉट पर क्लिक करना है और Download PDF पर क्लिक करके जन्म कुंडली को डाउनलोड कर लेनी है

Free Me Kundli Kaise Banaye? | जन्म कुंडली कैसे बनाये

यह जन्म कुंडली डाउनलोड होकर आपके मोबाइल में सेव हो जायेगी और अगर आप चाहे तो आप इसे प्रिंट भी करवा सकते है. जन्म कुंडली बनाते व्यक्त अगर आपने सही नाम, सही पता, सही समय बताये है तो यह जन्म कुंडली एकदम सही होगी, अगर आपको यकीन नही होता है तो आप किसी पंडित को भी दिखा सकते है.

जन्म कुंडली के बनाने के लाभ क्या है?

  • जन्म कुंडली से हम हमारे भविष्य में आने वाली परेसानियो का पता लगा सकते है.
  • भविष्य में आपको किन किन चीजों से सचेत रहना चाहिए जिससे आपको जायदा नुक्स्सन ना हो.
  • जन्म कुंडली में आपकी शादी शुदा ज़िन्दगी के बारे में भी बताया होता है.
  • जन्म कुंडली में आपके भविष्य के बिज़नस के बारे में जानने के लिए की आपको कौनसा बिज़नस करना चाहिए.
  • भविष्य में आने वाली परेसानियो का समाधान निकालने के लिए.
  • भविष्य में आपके पास कितना धन, दौलत और जायदाद होगी.
  • जन्म कुंडली से आप अपने सही जीवन साथी को भी चुन सकते है की आपके लिए कौनसी राशी की लड़की अच्छी है.
  • अगर आपके जीवन में कोई दोष है और आप उस वजह से अपनी मंजिल तक नही पहुच पा रहे है तो जन्म कुंडली में इससे छुटकारा पाने के लिए तरीके होंगे.
  • आप कितने शिक्षित होंगे और आपको शिक्षा में कितना लाभ होगा.
  • आपके दुश्मन कितने होंगे और कैसे परेसान करेंगे.
  • आपकी और आपके माता पिता के बीच में कैसे रिश्ते होंगे.
  • आपको कितनी मेहनत करनी होगी किसी चीज़ को पाने के लिए.

जन्म समय कैसे निकाले?

सूर्य पर्वत यानी अनामिका अंगुली (ring finger) के नीचे के हिस्से और अनामिका अंगुली के पहले हिस्से पर, गुरु पर्वत यानी तर्जनी अंगुली (index finger) ने नीचे के हिस्से पर तथा बीच की अंगुली के उपरी पहले हिस्से पर जितनी भी खडी रेखाए है, उन सब को गिनकर उनमे 811 जोड़ने है और फिर 124 से गुना कर देना है बाद में 60 से भाग देना है. भागफल (quotient) जन्म के घंटे और मिनट का होता है और योगफल यदि 24 से अधिक है तो वापस 24 से भाग दिया जाता है.

जन्म कुंडली कैसे देखे?

जन्म कुंडली देखने के लिए आपको यह आर्टिकल पढना होगा, इसमें आपको सब कुछ बताया हुआ है.

फ्री में कुंडली कैसे बनाये

जन्म कुंडली फ्री में बनाने के लिए इस आर्टिकल में दी गयी steps को फॉलो करे.

Conclusion

आज हमने आर्टिकल में Kundli Kaise Banaye? और कुंडली बनाने के फायदे के बार में जाना है. मुझे आसा है की आपको यह आर्टिकल अच्छे से समझ आ गया होगा अगर आपको इसमें कुछ समझ नही आया है तो आप मुझे कमेंट में पूछ सकते है. और अगर आपको यह आर्टिकल फायदेमंद लगा है तो अपने दोस्तों के साथ भी जरुर शेयर करे. धन्यवाद

यह भी जरुरु पढ़े:

Hello, I'm Sudhir Pratap Singh, A Full-Time Blogger, Affiliate Marketer, and Founder of Hindi Grab.

Leave a Comment