नाव का आविष्कार किसने किया और कब किया? | Who Invent Steamboat in Hindi

आपको पता है की नाव का आविष्कार किसने और कब किया अगर नहीं तो यह आर्टिकल आपके लिए ही है क्यूंकि नाव के आविष्कार के बारे में हर किसी को नहीं पता और इसके समन्धित बहुत सारे सवाल भी पूछे जाते है जैसे Steamboat ka aaviskaar kisne kiya और नाव को बनाने की कहानी और बहुत कुछ.

दोस्तों पहले के जामने में सफर करने के लिए इतना या उन्नत परिवहन नहीं था जितना अब है. पहले जब किसी को सफर करना होता था तब या तो पैदल या फिर बेलगाड़ी का इस्तमाल करते थे लकिन जब किसी को कही दूर जगह जाना होता जहा बिच में समुन्द्र हो तो उनके लिए बहुत मुश्किल हो जाता था.

अगर अभी हमे कही दूर जाना होता है तो हम ट्रैन, एयरोप्लेन, या नाव का इस्तमाल करते है लकिन पहले यह सब सुविधा नहीं थी. आज कल के ज़माने में टेक्नोलॉजी इतनी उन्नत हो गयी की इनको किसने बनाया यह किसी को नहीं पता इसलिए आज हम जानेगे की जहाज का आविष्कार किसने और कब किया तो चलिए शुरू करते है.

नाव का आविष्कार किसने और कब किया?

नाव का आविष्कार किसने किया? – Steamboat Ka Aaviskaar Kisne Kiya

अमेरिका के रहने वाले जॉन फिच ने सन 1787 में नाव में स्टीम इंजन लगा कर नाव का आविष्कार किया था. यह नाव 45 फिट लम्बी थी और इसे डेलावेर नदी में जॉन फिच और उनकी डिज़ाइन असिस्टेंट स्टीवन पगानो द्वारा चलाई गयी थी पहली बार, वैसे इससे पहले नाव चलती थी लकिन उन्हें हाथ से चलानी पड़ती थी, और सन 1787 में जॉन फिच ने नाव में स्टीम इंजन लगा कर सफलतापूर्वक चलाई थी और इसके बाद से स्टीम इंजन बोट चलने लग गयी थी.

स्टीमबोट का आविष्कार करने वाले की कहानी

John Fitch एक अमेरिकन इन्वेंटर, एन्टेर्प्रेनॉर, और इंजीनियर थे इनका जन्म विंडसर, कनेक्टिकट यूनाइटेड स्टेट्स में 21 जन्वरी 1743 में हुआ था. जॉन फिच स्टीम बोट के आविष्कारक से जाने जाते है. बचपन में जॉन फिच ने स्कूल से बहुत कम शिक्षा प्राप्त की लकिन इन्हे घडी बनाने और सही करने का बहुत शौक था, और उन्हें घडी बनानी और घडी को सही करनी भी आता थी लकिन जॉन फिच को यह सब करने की अनुमति नहीं थी.

जॉन फिच ने 29 दिसंबर 1767 में लूसी रॉबर्ट्स नाम की लड़की से शादी की थी और फिर जॉन फिच और लूसी रॉबर्ट्स के एक लड़का और एक लड़की हुई. ऐसे करते करते समय बीतता गया और इस समय में जॉन फिच ने बहुत सारी नौकरी की थी. अब उन्हें कुछ करना था इसलिए जॉन फिच वर्मींस्टर पेनसिलवेनिया में बस गए और उन्होंने स्टीम इंजन से चलने वाली नाव पर काम करना शुरू कर दिया था और बहुत मेहनत बाद उन्होंने सफलतापूर्वक स्टीम इंजन से चलने वाली नाव का आविष्कार कर दिया था.

नाव का आविष्कार किसने और कब किया?

नाव की कहानी

स्टीमबोट का आविष्कार तो जॉन फिच ने 1787 में किया था, लकिन 1787 से पहले भी नाव चलती थी और उन्हें पतवारो और हाथ से चलानी पड़ती थी. ईसा मसिह से लगभग 6000 साल पहले नाव का आविष्कार हुआ था जो की लकड़ियों को एक साथ में बांध कर चलाया जाता था, और कुछ समय बीतता गया और फिर समतल लकड़ियों को बांध कर निच्चे प्लास्टिक के ड्रम बांध कर चलाया जाता था और उन्हें पतवारो से संचालन किया जाता था.
कुछ समय बाद पाल (कपडा) से चलने वाली जहाज बनाई जिसके ऊपर बहुत सारे कपडे बांध कर चलाई जाती थी जो हवा की दिशा में चलती थी, और जब हवा की दिशा बदल जाती तो उन पाल को रसियो के द्वारा हवा की दिशा में किया जाता था. सन 1787 में स्टीम इंजन से चलने वाली जहाज जॉन फिच द्वारा बनाई गयी थी, जब स्टीमबोट का आविष्कार हो गया था तब पतवारो और पाल से चलने वाली जहाज़ या नाव का जमाना चला गया था और सब स्टीमबोट का इस्तमाल करते थे.
नाव का आविष्कार किसने और कब किया?
सन 1904 में डीजल इंजन से चलने वाली जहाज़ को बनाया गया था जो की 125 फीट लम्बी और 25-hp डीजल इंजन से चलती थी इसके बाद से लेकर अभी तक जहाज की टेक्नोलॉजी इतनी बढ़ गयी है की अब जहाज़ में घर तथा होटल्स भी बनाये जाते है.

Conclusion

दोस्तों आज हमने इस आर्टिकल की माध्यम से Naav ka aaviskaar kisne kiya, और Steamboat का आविष्कार किसने किया? जाना है.
अगर दोस्तों आपको इसके समन्धित कोई सवाल पूछने है तो आप कमेंट कर सकते है, और इस आर्टिकल का अनुसंधान करने में मुझे बहुत समय लगा, अगर आपको यह आर्टिकल पसंद आता है तो अपने दोस्तों के साथ सोशल मीडिया पर भी शेयर करे. धन्यवाद।
Other Links: 

Hello, I'm Sudhir Pratap Singh, A Full-Time Blogger, Affiliate Marketer, and Founder of Hindi Grab.

Leave a Comment