DNA की खोज किसने की और कब की? | DNA Ki Khoj Kisne Ki

दोस्तों आपने DNA के बारे में पढ़ा होगा स्कूल में लकिन क्या आपको पता है DNA ki khoj kisne ki?. आज इन्टरनेट पर ऐसे कई आर्टिकल मोजूद है DNA की खोज को लेकर लकिन उनमे से कई आर्टिकल में सही नही बताया गया है की असल में DNA की खोज किसने की थी.

इस पृथ्वी के छोटे से छोटे पोधे और जीवो से लेकर बड़े से बड़े पेड़ और जिव जन्तु सब DNA पर निर्भर करते है. DNA ही एक पीढ़ी से दूसरी पीढ़ी तक जानकारी ले जाता है, क्यूंकि DNA के अन्दर ही जिव जन्तु की सभी जानकारी रहती है और यह एक पीढ़ी से कई पीढ़ी तक इस जानकारी को ले जाता है. DNA असल में कोशिका (cell) के अन्दर होता है और कोशिका के जरिये ही DNA एक पीढ़ी से दूसरी पीढ़ी तक जाता है.

लकिन जब DNA की खोज के बारे में बात करे तो ऐसे कई सारे नाम आयेगे जिन्होंने DNA की खोज की मगर ऐसा नही है असल में DNA की खोज सिर्फ एक व्यक्ति ने ही की थी. तो चलिए जानते है DNA के बारे में.

DNA की खोज किसने और कब की – DNA Ki Khoj Kisne Ki

असल में DNA की खोज जोहान्न फ़्रिएद्रिच मिएस्चेर (Johannes Friedrich Miescher) ने सन 1869 में किया था. DNA के बारे में अगर इन्टरनेट पर सर्च करे तो बहुत सारे आर्टिकल आयेंगे उनमे से बहुत आर्टिकल में गलत जानकरी होती है. जैसे कई आर्टिकल दावा करते है की DNA की खोज Francis Crick और James Watson ने किया लकिन ऐसा नही है. असल में इन दोनों ने Double Helix की खोज की थी. Francis Crick और James Watson ने Double Helix की खोज Johannes Friedrich Miescher की वजह से की थी.

क्यूंकि Johannes Friedrich Miescher ने DNA की खोज की और फिर कई सारे वैज्ञानिकों ने DNA पर रिसर्च की और उस रिसर्च की वजह से Francis Crick और James Watson ने DNA की सरंचना (structure) की खोज की और फिर इसका नाम Double Helix रख दिया गया था. इसके लिए सन 1962 में Francis Crick और James Watson को मेडिकल साइंस का नोबेल पुरस्कार दिया था.

DNA क्या है?

DNA का पूरा नाम Deoxyribonucleic acid है और यह एक molecule (अणु) है. DNA बिलकुल winding staircase (घुमावदार सीडी) की जैसे दीखता है. DNA हमारी कोशिका (Cell) की केन्द्रक (Nucleus) और कोशिका के माइटोकांड्मेंरिया में पाए जाते है.

Double Helix (सीडीनुमा सरंचना)

मानव शरीर में लगभग 724 खरब तक कोशिकाए (cells) होती है, इनमे से हर कोशिका के अन्दर केन्द्रक (nucleus) होता है और केन्द्रक के अन्दर धगेनुमा सरंचना (threadlike structures) होते है उन्हें गुणसूत्र (chromosome) कहते है. मनुष्य शरीर के अन्दर हर एक कोशिका (cell) में 46 chromosome (गुणसूत्र) होते है, और इनमे से 23 chromosome माँ के ovum (डिम्ब) द्वारा आते है और 23 chromosome पिता के sperm (शुक्राणु) द्वारा आते है.

एक micro chromosome (सूक्ष्म गुणसूत्र) जिसे XY chromosome (गुणसूत्र) कहते है, यह केवल पुरुष में ही पाया जाता है और XX chromosome (गुणसूत्र) केवल महिला में पाया जाता है. जब संभोग के दोरान पिता से Y chromosome माता के X chromosome से मिलता है तब भ्रूण (embryo) का विकास लड़के के रूप में होता है और जब XX chromosome मिलते है तब embryo का विकास लड़की के रूप में होती है.

DNA कितने प्रकार के होते है?

DNA चार प्रकार के होते है:

  • A-DNA
  • B-DNA
  • C-DNA
  • Z-DNA

DNA Fingerprint की खोज किसने की और कब की?

DNA Fingerprint की खोज Alec Jeffreys ने सन 1984 में की थी.

Conclusion

आज हमने इस आर्टिकल में DNA ki Khoj kisne ki और DNA के बारे में जाना है. अगर आज आपने कुछ नया सिखा है तो अपने दोस्तों के साथ भी यह आर्टिकल शेयर करे, और अगर आपको ऐसा लगता है की मेने इस आर्टिकल में कुछ गलत बताया है तो आप कमेंट में बता सकते है. धनयवाद!

यह भी पढ़े:

Hello, I'm Sudhir Pratap Singh, A Full-Time Blogger, Affiliate Marketer, and Founder of Hindi Grab.

Leave a Comment