कोशिका की खोज किसने की और कैसे की? | Cell Ki Khoj Kisne Ki

दोस्तों आपको तो पता ही है की हमारा शरीर अरबो कोशिका से मिलकर बना है लकिन क्या आपको पता है Cell ki khoj kisne ki या कोशिका की खोज किसने की थी और कैसे की थी. अगर नही पता है तो आप यह आर्टिकल पढ़ कर अच्छे से जान पाओगे.

मनुष्य के शरीर में छोटे से छोटे अंग से लेकर बड़े से बड़े अंग कोशिका पर ही निर्भर करता है, क्यूंकि कोशिका ही एक ऐसी चीज़ है जिससे हम जिंदा है. कोशिका हमारे शरीर के अलग अलग अंग तक कुछ जरुरी पोषक तत्व पहुचाता है और शरीर में energy को बढाता है जिससे हम आसानी से कोई भी काम कर सकते है. कोशिका के अन्दर genetic information भी होती है जिससे हमारी आदते हमारी आने वाली पीढ़ी के अन्दर जाती है.

तो चलिए शुरू करते है और जानते है की कोशिका की खोज किसने की.

कोशिका की खोज किसने की और कैसे की – Cell Ki Khoj Kisne Ki

कोशिका (Cell) की खोज रोबर्ट हुक (Robert Hooke) ने सन 1665 में किया और यह एक मर्तकोशिका (dead cell) थी. रोबर्ट हुक ने कोशिका की खोज करने के लिए बहुत अध्यन किया और फिर बोतल की कार्क की एक पतली परत को माइक्रोस्कोप में देखते हुए पाया की उस पतली परत में छोटे छोटे बहुत सारे छेद है, उन छोटे छोटे छेद को रोबर्ट हुक ने Cell (कोशिका) का नाम दे दिया.

उन छोटे छोटे छेद को रोबर्ट हुक ने इसलिए Cell का नाम दिया क्यूंकि Cell को लैटिन भासा में cellulam या cella बोला जाता है, और cella का अर्थ एक छोटा कमरा होता है वैसे वह छेद छोटे छोटे कमरे की जैसे ही दिख रहे थे.

कोशिका कितने प्रकार की होती है?

कोशिका दो प्रकार की होती है:

  1. प्रोकर्योटिक कोशिका (Prokaryotic Cell)
  2. यूकर्योटिक कोशिका (Eukaryotic Cell)

प्रोकर्योटिक कोशिका (Prokaryotic Cell)

  • प्रोकर्योटिक कोशिका की व्यास (Diameter) 0.1 से 0.5 माइक्रोमीटर तक होती है.
  • इसका निर्माण द्विखण्डन (Binary Fusion) से होता है.
  • यह एकल कोशिका (single celled) वाले माइक्रोओर्गानिस्म पर पाए जाते है.

यूकर्योटिक कोशिका (Eukaryotic Cell)

  • यूकर्योटिक कोशिका की व्यास (Diameter) 10 से 100 माइक्रोमीटर की होती है.
  • यह बहुकोसिका (multicellular) वाले microorganism पर पाए जाते है.
  • इसका निर्माण sexual तथा asexual reproduction (लैंगिक तथा अलैंगिक जनन) से होता है.

जीवित कोशिका की खोज किसने की थी?

जीवित कोशिका (living cell) की खोज अंटोनी वन लेयूवेन्होएक (Antonie van Leeuwenhoek) ने सन 1674 में किया था. अंटोनी वन लेयूवेन्होएक ने ही बेक्टेरिया और शुक्राणु कोशिका (sperm cell) जैसे कई कोशिका की खोज की थी.

कोशिका आत्महत्या क्यों करती है?

जब कोशिका (Cell) आन्तरिक या बाहरी कारणों से ख़राब (damage) हो जाती है तब वह खुद को नष्ट करके शरीर की रक्षा करती है. कोशिका खुद को नष्ट करके शरीर की रक्षा करती है इस process को अपोप्टोसिस (Apoptosis) कहा जाता है.

मनुष्य के शरीर में कितनी कोशिकाए होती है?

मनुष्य के शरीर में लगभग 70 से 100 खरब तक कोशिकाए (Cells) होती है.

ऊतकों (Tissues) का निर्माण कैसे होता है?

ऊतकों (Tissues) का निर्माण एक तरह की बहुत सारी कोशिकाए के मिलने से होता है (Group of Cells).

Conclusion

इस आर्टिकल में हमने कोशिका की खोज किसने की और कैसे की? और कोशिका के बारे में कुछ बाते जानी है. अगर आपको आज कुछ नया सिखने को मिला है तो अपने दोस्तों के साथ भी शेयर करे, और अगर आपको ऐसा लगता है की मेने इस आर्टिकल में कुछ गलत जानकारी दी है तो आप कमेंट में बता सकते है.

यह भी पढ़े:

Hello, I'm Sudhir Pratap Singh, A Full-Time Blogger, Affiliate Marketer, and Founder of Hindi Grab.

2 thoughts on “कोशिका की खोज किसने की और कैसे की? | Cell Ki Khoj Kisne Ki”

  1. आपके द्वारा दी गई जानकारी बहुत ही महत्व पूण एवं उपयोगी हैं।

    Reply

Leave a Comment