Bipin Rawat Biography in Hindi | बिपिन रावत की जीवनी

Bipin Rawat Biography in Hindi | बिपिन रावत की जीवनी बिपिन रावत के जीवन के बारे में जानने के लिए यह आर्टिकल पूरा पढ़े.

बिपिन रावत भारत के पहले CDS (Chief of Defence Staff) थे, बिपिन रावत 31 दिसम्बर 2019 को CDS बने थे. और साथ ही में बिपिन रावत 16 दिसम्बर 2016 में देश के 27 वे थलसेना प्रमुख बने और 16 दिसम्बर 1978 को एल्लेविन गोरखा राइफल की पांचवी बटालियन में शामिल किया गया था. उन्हें परम विशिस्ट सेवा मैडल, उतम युद्ध सेवा मैडल और युद्ध सेवा पदक के साथ साथ और भी बहुत सारे मैडल मिले थे.

तो चलिए शुरू करते है और जानते है Bipin Rawat Biography in Hindi.

Bipin Rawat Biography in Hindi – बिपिन रावत की जीवनी

Biography PointsBiography Details
नाम बिपिन रावत
जन्म तिथि 16 मार्च 1958
जन्म स्थान पौड़ी गढ़वाल उत्तराखंड
उम्र 63 साल
पिता का नाम जनरल लक्ष्मण सिंह रावत
राष्ट्रीयताभारतीय
धर्म हिन्दू

बिपिन रावत उत्तराखंड के छोटे से गाँव पौड़ी गढ़वाल में रहने वाले भारतीय चीफ ऑफ़ डिफेन्स स्टाफ थे. बिपिन रावत के पिता सेना से लेफ्टिनेंट जनरल के पद से सेवानिवृत हुए थे. बिपिन रावत जी की शुरूआती शिक्षा कैब्रियन हाई स्कूल देहरादून से हुई थी, इसके बाद में बिपिन रावत Indian Military Academy चले गये थे और वह उन्हें Sword of Honour से सम्मानित किया.

इसके बाद बिपिन रावत higher defence study के लिए अमेरिका चले गये वह उन्होंने Defence Services Staff College से graduation की और फिर Higher Command Course भी किया था.

Bipin Rawat Career – बिपिन रावत करियर

बिपिन रावत को 16 दिसम्बर 1978 में एल्लेविन गोरखा राइफल की पांचवी बटालियन में शामिल किया गया था, और इनकी पहली पोस्टिंग मिजोरम में हुई थी, इस बटालियन में रहते हुए बिपिन रावत बड़े-बड़े युद्ध और काउंटर विरोधी अभियानों में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई थी.

बिपिन रावत ने आर्मी के, GOC-C Southern Command, Military Operations Directorate, III Corps, IMA Dehradun जैसे विभिन्न महत्वपूर्ण विभागों के लिए काम लिए किये थे. इसके बाद वे 31 दिसम्बर 2019 में CDS बने थे और 1 जनवरी 2020 को रक्षा प्रमुख के पद ग्रहण किया था.

Bipin Rawat को कितने पुरस्कार मिले थे?

बिपिन रावत को लगभग 6 पुरस्कार मिले थे:

  • सेना पदक
  • विशिस्ट सेवा पदक
  • युद्ध सेवा पदक
  • परम विशिस्ट सेवा पदक
  • उत्तम युद्ध सेवा पदक
  • अति विशिस्ट सेवा पदक

Conclusion

आज हमने इस आर्टिकल में Bipin Rawat Biography in Hindi और बिपिन रावत का करियर के बारे में जाना है. अगर आपको यह आर्टिकल अच्छा लगा है तो अपने दोस्तों के साथ भी शेयर करे.

यह भी पढ़े:

1 thought on “Bipin Rawat Biography in Hindi | बिपिन रावत की जीवनी”

Leave a Comment